Saturday, May 30, 2009

तम्बाकू निषेध दिवस

"एक सिरे पर आग ,दूसरे पर आदमी फासला सिर्फ़ ढाई इंच "
आज तम्बाकू निषेध दिवस है यह बात सबको मालूम है और तम्बाकू का प्रयोग करने वाले लोगो को यह भी मालूम होता है की इससे क्या नुकसान है ......बस लत होने के चलते छोड़ नही पाते ।
सिर्फ़ लोग जागरूक नही है, वैसे भी जब सबको यह मालूम होता है की रेड लाइट क्रास करने पर फाइन हो सकता है फ़िर भी नियमो को तोड़ते है । चूकी मामला जीवन और परिवार का है इसलिए अपने लिए नही सही, अपने परिवार के लिए ही तम्बाकू से बचे ।

2 comments:

Babli said...

आपने बिल्कुल सही फ़रमाया है पर तम्बाकू निषेध दिवस में क्या सच में लोगों ने तम्बाकू नहीं पिया ? ये एक बहुत ही बुरी आदत है जो छुट नहीं सकती हाँ पर कोशिश करने से कोई भी काम नामुमकिन नहीं होता!

ज्योति सिंह said...

hamaare shahar me lat bahut buri tarike se faili jo aadi nahi hota wo bhi ho jaata hai. aese diwas kya matlab jahan bikri pe rok ke bajaye badhaawa diya ja raha ho .
subject jo chunaa hai bahut sahi mudde ko lekar .is sudhaar ke liye sahyog hona jaroori hai.